Lok Sabha Election 2024: कुल 7 चरणों में होगा चुनाव, पहले में सबसे ज्यादा सीटों पर होगी वोटिंग; जानें हर डिटेल

Lok Sabha Election 2024:

Lok Sabha Election 2024:  जिस बात का देश के नेता और जनता दोनों ही बेसब्री से इंतजार कर रहे थे शनिवार को उसका ऐलान हो गया। भारतीय निर्वाचन आयोग ने आगामी लोकसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया है। आयोग ने बताया कि 18वीं लोकसभा के गठन के लिए चुनाव 19 अप्रैल से 1 जून तक सात चरणों में होगा। वहीं, मतगणना 4 जून को होगी और इसी दिन परिणाम भी सामने आ जाएगा।

किस चरण में कितने राज्यों में डाले जाएंगे वोट?

चुनाव आयोग ने बताया कि 19 अप्रैल को पहले चरण में  21 राज्यों में वोटिंग होगी। दूसरे चरण का मतदान 26 अप्रैल को,  तीसरे चरण का मतदान 7 मई को होगा। 13 मई को चौथे चरण, 20 मई को पांचवें चरण, 25 मई को छठा और 1 जून को सातवें चरण का मतदान होगा।

पहले चरण में होगा सबसे ज्यादा सीटों पर चुनाव

निर्वाचन आयोग ने बताया कि पहले चरण में 102 सीटों पर और दूसरे चरण में 89 सीटों पर मतदान होगा। इसके अलावा तीसरे चरण में 94 सीटों पर, चौथे चरण में 96 सीटों , पांचवें चरण में 49, छठे चरण में 57 और सातवें व अंतिम चरण में 57 सीटों पर वोटिंग होगी। आयोग की ओर से चुनाव की तारीखों की घोषणा के साथ देश में आदर्श आचार संहिता भी लागू हो गई है।

1.82 करोड़ लोग डालेंगे पहली बार वोट

तारीखों की घोषणा को लेकर निर्वाचन आयोग ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इसमें मुख्य निर्वाचन आयुक्त (सीईसी) राजीव कुमार ने कहा कि इस बार लोकसभा चुनाव के लिए लगभग 97 करोड़ लोगों के पास मतदान का अधिकार है। लगभग 1.82 करोड़ मतदाता पहली बार इस चुनाव में अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे। मतदान के लिए करीब 10.5 लाख पोलिंग स्टेशन बनाए जाएंगे।

Lok Sabha Election 2024:

चुनाव के लिए विस्तृत तैयारी की गई है, हमने सभी राज्यों में जाकर समीक्षा की है। उन्होंने आगे कहा कि भारत के चुनाव पर पूरी दुनिया की नजर है। चुनाव का पर्व पूरे देश के लिए गर्व का विषय है। दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र में चुनाव कराना बहुत बड़ी चुनौती है लेकिन हम लोकसभा आयोजित कराने चुनाव के लिए पूरी तरह से तैयार हैं।

दिल्ली में महिला वोटर्स पुरुषों से ज्यादा

सीईसी ने कहा कि इस बार के लोकसभा चुनाव में 21.5 करोड़ युवा मतदाता वोट डालेंगे। उन्होंने बताया कि इस बार महिला मतदाताओं की संख्या (47.1 करोड़) में इजाफा हुआ है। राष्ट्रीय राजधानी नई दिल्ली में तो महिला वोटर्स की संख्या पहली बार पुरुष मतदाताओं से ज्यादा हो गई है। जानकारी के अनुसार दिल्ली में वोटर्स की संख्या में 2.72 प्रतिशत का इजाफा हुआ है।

पिछले लोकसभा चुनाव में दिल्ली के वोटर्स की संख्या 1 करोड़ 43 लाख 27 हजार 649 थी। इस बार यह आंकड़ा बढ़कर 1 करोड़ 47 लाख 18 हजार 119 हो गई है। यानी कि 5 साल के दौरान यहां मतदाताओं की संख्या में लगभग 4 लाख की बढ़ोतरी हुई है। दिल्ली में जुड़े नए मतदाताओं में महिला वोटर्स की हिस्सेदारी 73.25 फीसदी है।

कैसा था 2019 के चुनाव का शेड्यूल?

साल 2019 में हुए पिछले लोकसभा चुनाव का आयोजन 11 अप्रैल से 19 मई तक सात चरणों में हुआ था। इसका परिणाम 23 मई को घोषित किया गया था। चुनाव में भाजपा को बेहतरीन जीत मिली थी। तब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाले भगवा दल के खाते में 303 सीटें आई थीं। वहीं, कांग्रेस को केवल 52 सीटों पर ही जीत मिल पाई थी।

Lok Sabha Election 2024: सरकार बनाना तो दूर कांग्रेस पार्टी विपक्ष के नेता के पद पर दावा करने के लिए जरूरी 10 प्रतिशत सीटों का आंकड़ा भी नहीं पा सकी थी। पिछले चुनाव में 91.20 करोड़ लोग मतदान के पात्र थे और मतदान का प्रतिशत 67 रहा था। यह देश के चुनावी इतिहास में मतदान का सबसे ऊंचा आंकड़ा था। इसके अलावा महिला मतदाताओं की संख्या भी सबसे ज्यादा रही थी।