• मान मुनव्वाल से शिकायत रुकवाने में लगे जोन आयुक्त
  • महिला अधिकारी को जोन आयुक्त ने पकड़ लिया, मार खाने के बाद कहा बेटी समझ कर गले लगाया
  • लिखित शिकायत नहीं होने की वजह से इस खबर में शहर, नगर निगम और अधिकारी का नाम नहीं बताने की बाध्यता है। निगम या पुलिस को शिकायत होने पर नाम भी सार्वजनिक किया जाएगा
  • करतूत सामने आने के बाद जोन आयुक्त को मुख्यालय किया गया अटैच

नगर निगम के एक जोन आयुक्त ने अपनी साथी महिला अधिकारी से अपने चैम्बर में अश्लील की है। घटना को लगभग एक हफ्ते हो चुके हैं लेकिन महिला और उसके पति से मान मुनव्वल कर जोन
आयुक्त शिकायत रोकने में सफल हो गए हैं।

शर्म की बात यह है कि वरिष्ठ अधिकारियों को इसकी जानकारी है पर सभी यह कहकर मामला टाल रहे हैं कि इसकी लिखत शिकायत नहीं मिली है। लेकिन दिन दहाड़े हुए इस घटना ने निगम कार्यालय में महिलाओं की सुरक्षा पर सवाल खड़ा कर दिया है।

सूत्रों के अनुसार पिछले मंगलवार मुख्यालय के पास ही स्थित जोन कार्यालय में आम दिनों की तरह काम चल रहा। दोपहर में एक महिला अधिकारी किसी काम के लिए जोन आयुक्त के चैम्बर में गई। जोन आयुक्त ने महिला अधिकारी से पहले इधर-उधर की बात की फिर अचानक जोन आयुक्त ने महिला अधिकारी को दबोच लिया।

महिला अधिकारी ने इसका विरोध कर खुद को जोन आयुक्त से खुद को छुड़ाया। बताया जा रहा है इस समय जोन कार्यालय में कुछ जनप्रतिनिधि भी मौजूद थे। लेकिन किसी को इस घटना की जानकारी नहीं मिल पाई।

महिला अधिकारी ने जोन आयुक्त की इस हारकत के बारे में अपने पति और परिजनों को बताया। बात महापौर तक भी पहुंची।


अगले दिन महिला अधिकारी पति और परिजनों के साथ महापौर के पास गई, अधिकारी भी दौड़े दौड़े वहां आया। जोन आयुक्त हाथ जोड़कर महिला और उसके पति से माफी मांगने लगा। कहने लगा बेटी समझ कर गले लगाया था, सबको बेटी समझता है। लाड़ के कारण ऐसा किया।

इसके बाद एक जनप्रतिनिधि ने महिला को कहा कि वो अधिकारी को झापड़ रसीद करे, लेकिन महिला अधिकारी ब ऐसा नहीं कर पाई, जिसके बाद महिला के पति ने जूता निकालकर अधिकारी की ताजपोशी की। जमकर धुना भी। इसके बाद अधिकारी ने सफाई देते हुए माफी मांगी और अंत तक कहते रहे कि बेटी समझ कर गले लगाया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *