10वीं, 12वीं बोर्ड एग्जाम में खिड़कियों से लटककर हो रहा नकल, शिक्षा मंत्री ने दी सफाई, देखें VIDEO

Haryana Board Exam

Haryana Board Exam हरियाणा में 10वीं और 12वीं बोर्ड की परीक्षाएं चल रही हैं। इसी बीच सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी से सर्कुलेट हो रहा है, जिसमें कुछ लोग खिड़कियों से लटककर नकल कर रहे हैं। वायरल वीडियो नूंह जिले के पिनगवां के आईकेएम पब्लिक स्कूल का बताया जा रहा है। वीडियो में साफ देखा जा रहा कि एग्जाम सेंटर के बाहर छात्रों को पर्चियां पहुंचाई जा रही हैं। जानकारी दे दें कि बीते मंगलवार को हरियाणा बोर्ड की 10वीं कक्षा के फिजिकल एजुकेशन की परीक्षा थी, जिसमें जमकर नकल होती दिख रही।

करवा रहे स्कूल बिल्डिंग पर चढ़कर नकल

वहीं, दूसरी तरफ एक और वीडियो भी वायरल हुआ जिसमें लोग स्कूल बिल्डिंग पर चढ़कर नकल करवा रहे हैं, और स्कूल प्रबंधन कुछ करता नजर नहीं आ रहा। इसके अलावा, नूंह जिले के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय टपकन-02 (बी-2) में बनाए गए एग्जाम सेंटर में शुक्रवार को 12वीं कक्षा के उर्दू का पेपर लीक हो गया। पेपर सोशल मीडिया पर वायरल होने की सूचना मिलने के 15 मिनट में ही स्कवायर्ड फ्लाइंग टीम ने मौके पर पहुंचकर पेपर आउट होने वाले छात्र को दबोच लिया। वहीं पेपर का फोटो खिंचने वाले को भी काबू किया।

एफआईआर हुआ दर्ज

बता दें कि बोर्ड अधिकारियों ने एग्जाम सेंटर के ऑब्जर्वर, सेंटर सुपरिटेंडेंट, एग्जाम सुपरवाइजर के साथ आरोपी स्टूडेंट और फोटो खींचने वाले के खिलाफ FIR दर्ज कराई है। वहीं, बोर्ड ने उस केंद्र में हुई उर्दू की परीक्षा को भी रद्द कर दिया है। अधिकारियों की शुरुआती जांच में यह भी पाया है कि आरोपी छात्र के रिश्तेदार ने परीक्षा केंद्र के अंदर घुसकर प्रश्नपत्र का अपने मोबाइल से फोटो क्लिक किया और फिर उसे सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दिया।

Haryana Board Exam “राज्य में ऐसी कोई शिकायत नहीं मिली”

Haryana Board Exam वहीं, नूंह में 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षाओं में नकल की रिपोर्ट पर हरियाणा के शिक्षा मंत्री कंवर पाल का कहा, “इस एक मामले को छोड़कर राज्य में ऐसी कोई शिकायत नहीं है। मैंने चेयरमैन से बात की है और उन्होंने कहा है कि ऐसा कुछ नहीं हुआ।” उस समय पर्याप्त पुलिस बल उपलब्ध था। हमने निर्देश दिया है कि पुलिस बल तुरंत वहां पहुंचे। हरियाणा में नकल के मामले लगभग खत्म हो गए हैं। एक स्कूल में एक घटना हुई और हम उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई करेंगे। राज्य में और कोई घटना पेपर लीक की नहीं हुई है।”